उत्तराखंड में चढ़ते पारे ने बढ़ाई बेचैनी, 10 मई से होगी बारिश

देहरादून। उत्तराखंड में चढ़ते पारे ने मैदान से लेकर पहाड़ों तक बेचैनी बढ़ा दी है। आगामी शुक्रवार शाम तक प्रदेश को मौसम से राहत मिलने के आसार नहीं हैं। मौसम विज्ञान केंद्र का पूर्वानुमान है कि 10 मई देर शाम से 11 मई तक प्रदेश के पर्वतीय क्षेत्रों मे तेज आंधी तूफान के साथ बारिश
 | 
उत्तराखंड में चढ़ते पारे ने बढ़ाई बेचैनी, 10 मई से होगी बारिश

देहरादून। उत्तराखंड में चढ़ते पारे ने मैदान से लेकर पहाड़ों तक बेचैनी बढ़ा दी है। आगामी शुक्रवार शाम तक प्रदेश को मौसम से राहत मिलने के आसार नहीं हैं। मौसम विज्ञान केंद्र का पूर्वानुमान है कि 10 मई देर शाम से 11 मई तक प्रदेश के पर्वतीय क्षेत्रों मे तेज आंधी तूफान के साथ बारिश हो सकती है। इससे पारे की रफ्तार पर भी अंकुश लगेगा।

प्रदेश में सबसे अधिक तापमान जसपुर में 41.3 डिग्री रिकार्ड किया गया जो इस वर्ष तक अभी तक सर्वाधिक तापमान है। चिलचिलाती धूप से पहाड़ और मैदान दोनों बेचैन हैं। पर्वतीय शहरों में उत्तरकाशी सबसे गर्म रहा। यहां तापमान 35.3 डिग्री सेल्सियस के पार चला गया है।

दून में तेज धूप के कारण सुबह 11 बजे ही दून का अधिकतम तापमान 31 डिग्री पहुंचा गया। इससे बाजार में आवाजाही काफी कम रही। गत दिवस दोपहर एक बजे पारा 37.4 डिग्री पहुंच गया और दोपहर ढाई बजे तापमान 38.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इस दौरान शहर की सड़कें सूनी नजर आई।

इस सीजन में 30 अप्रैल को दून का सर्वाधिक तापमान 38.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। मसूरी का अधिकतम तापमान 25.9 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि 10 मई शाम के बाद अगले 24 घंटे तक पहाड़ी क्षेत्रों में कही-कही 60 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चला सकती है और बारिश हो सकती है। जिससे पारे मे कमी दर्ज होने की उम्मीद है।

शहर—————-अधितम———-न्यूनतम

देहरादून————-38.4————–20.8

मसूरी—————-25.9————–16.2

नई टिहरी———–27.0————–16.8

हरिद्वार————-38.8————–21.1