फ्रांस में चमक बिखेरने को तैयार देहरादून के अनु कुमार

देहरादून : महाराणा प्रताप स्पोर्टस कॉलेज के एथलेटिक्स प्रशिक्षु अनु कुमार अंतरराष्ट्रीय फलक पर चमक बिखेरने को तैयार हैं। स्कूल गेम्स फेडरेशन ऑफ इंडिया ने अनु कुमार का चयन वर्ल्ड स्कूल गेम्स में देश का प्रतिनिधित्व करने वाली टीम में किया है। महाराणा प्रताप स्पोर्टस कॉलेज में 2012 में प्रवेश पाने वाले अनु कुमार ने
 | 

देहरादून : महाराणा प्रताप स्पोर्टस कॉलेज के एथलेटिक्स प्रशिक्षु अनु कुमार अंतरराष्ट्रीय फलक पर चमक बिखेरने को तैयार हैं। स्कूल गेम्स फेडरेशन ऑफ इंडिया ने अनु कुमार का चयन वर्ल्‍ड  स्कूल गेम्स में देश का प्रतिनिधित्व करने वाली टीम में किया है।

महाराणा प्रताप स्पोर्टस कॉलेज में 2012 में प्रवेश पाने वाले अनु कुमार ने पांच साल के कठिन परिश्रम के बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश का प्रतिनिधित्व करने का मौका हासिल किया है। मूलरूप से धनपुरा हरिद्वार निवासी अनु कुमार के पिता महिपाल सिंह निजी कंपनी में कार्यरत हैं।

फरवरी में गुजरात में हुए 62वीं राष्ट्रीय विद्यालयी एथलेटिक्स चैंपियनशिप के अंडर-17 वर्ग में अनु कुमार ने 800 मी. में स्वर्ण व 1500 मी. दौड़ में स्वर्णिम सफलता के साथ नया मीट रिकॉर्ड भी बनाया। इसी प्रदर्शन के आधार पर उनका चयन वर्ल्‍ड स्कूल गेम्स के लिए हुआ है। हाल ही में नौ-दस मई को दिल्ली में गेल इंडिया स्पीड स्टार सेशन की 400 मी. दौड़ में भी अनु कुमार ने सभी को पछाड़ते हुए स्वर्ण पदक जीता।

अनु कुमार के कोच लोकेश कुमार ने बताया कि एसजीएफआइ की ओर से लेटर मिला है। फ्रांस में 24 से 30 जून तक वर्ल्‍ड स्कूल गेम्स का आयोजन होना है। वर्ल्‍ड स्कूल गेम्स के लिए कुल नौ खिलाड़ियों का चयन किया गया है। इनमें से छह खिलाड़ी फ्रांस जाएंगे। जिनमें अनु कुमार भी हैं।

महाराणा स्पोर्टस कॉलेज के प्रधानाचार्य मनोज शर्मा के मुताबिक अनु कुमार का चयन स्पोर्टस कॉलेज लिए उपलब्धि है। अनु कुमार से पहले पवन एवं आशीष भी वर्ल्‍ड स्कूल गेम्स में देश का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। उम्मीद है कि अनु फ्रांस में भी शानदार प्रदर्शन करते हुए देश के लिए पदक जीतेगा।