आश्रम पद्धति के स्कूलों में भी लागू होगा ड्रेस कोड

हल्द्वानी: समाज कल्याण विभाग के अधीन संचालित किए जा रहे आश्रम पद्धति विद्यालयों एवं औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में अध्ययन करने वाले छात्र-छात्राओं के लिए ड्रेस कोड लागू किया जाएगा। समाज कल्याण मंत्री यशपाल आर्य ने विभागीय अधिकारियों को ड्रेस कोड लागू करने के लिए प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। सर्किट हाउस में समाज कल्याण
 | 
आश्रम पद्धति के स्कूलों में भी लागू होगा ड्रेस कोड

हल्द्वानी: समाज कल्याण विभाग के अधीन संचालित किए जा रहे आश्रम पद्धति विद्यालयों एवं औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में अध्ययन करने वाले छात्र-छात्राओं के लिए ड्रेस कोड लागू किया जाएगा। समाज कल्याण मंत्री यशपाल आर्य ने विभागीय अधिकारियों को ड्रेस कोड लागू करने के लिए प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए।

सर्किट हाउस में समाज कल्याण मंत्री ने विभाग की कुमाऊं संभाग की समीक्षा बैठक ली। पर्वतीय क्षेत्रों मेंआश्रम पद्धति विद्यालयों में छात्र-छात्राओं की कम संख्या पर चिंता जाहिर करते हुए यशपाल आर्य ने प्रचार प्रसार करने के निर्देश दिए। समाज कल्याण विभाग की ओर से संचालित किए जा रहे औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में बदलते दौर के साथ नए व्यावसायिक कोर्स जिनमें कंप्यूटर हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर शुरू किए जाएंगे।

सुधरेगी भोजन की गुणवत्ता

आश्रम पद्वति विद्यालयों के उच्चीकरण एवं इंटर तक की शिक्षा दिए जाने का प्रस्ताव शासन को भेजा जाएगा। इससे इन विद्यालयों का उच्चीकरण किया जा सकेगा। मंत्री ने कहा कि आवासीय विद्यालयों एवं संस्थानों में भोजन की गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए। वर्तमान में भोजन का मेन्यू 69 रूपये है जो काफी काफी कम है।

ऑनलाइन मिलेगी छात्रवृत्ति

अनुसूचति जाति, जनजाति के छात्र-छात्राओं को अब ऑनलाइन छात्रवृत्ति का वितरण किया जाएगा। समाज कल्याण विभाग ने छात्रवृत्ति के ऑनलाइन वितरण का काम शुरू कर दिया है। एक सप्ताह के भीतर छात्रों को छात्रवृत्ति का भुगतान कर दिया जाएगा।

परित्यक्ताओं को कानूनी मदद

परित्यक्ताओं को पेंशन देने के साथ ही अब समाज कल्याण विभाग भरण पोषण भी दिलाएगा। विभाग की समीक्षा बैठक में निदेशक मेजर योगेन्द्र यादव ने यह प्रस्ताव रखा। उन्होंने कहा कि शासकीय अधिवक्ताओं की मदद से परित्यक्ता स्त्रियों को भरण पोषण दिलाया जाएगा।