दुग्ध उत्पादक समितियों को सायलेज पर सब्सिडी देंगे: Rekha Arya

 | 
दुग्ध उत्पादक समितियों को सायलेज पर सब्सिडी देंगे: Rekha Arya


रुडकी:  कैबिनेट मंत्री Rekha Arya ने कहा कि सरकार दुग्ध उत्पादन से गांव के लोगों की आर्थिकी मजबूत करना चाहती है। इसके लिए गांव के हर मोहल्ले में दुग्ध उत्पादक सहकारी समितियां गठित कर लोगों को इससे जोड़ा जा रहा है। उन्होंने समितियों को दिए जा रहे सायलेज पर 50 फीसदी सब्सिडी देने की घोषणा भी की। महिला सशक्तिकरण, बाल विकास, पशुपालन, दुग्ध एवं मत्स्य विभाग की मंत्री रेखा आर्य ने खानपुर विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन के प्रस्ताव पर बालावाली में डेढ़ करोड़ की लागत से स्वीकृत मिल्क चिलिंग प्लांट का गुरुवार को पूजा पाठ के साथ शिलान्यास किया। बाद में Rekha Arya कहा कि दूध में मानव शरीर के लिए जरूरी सारे पौष्टिक तत्व होते हैं। यही एक ऐसा व्यवसाय है जो कोरोनाकाल में भी तेजी से फलता फूलता रहा।

कहा कि बालावाली में अगले छह महीने के भीतर चिलिंग प्लांट काम करने लगेगा। इससे ज्यादा से ज्यादा लोगों आर्थिक स्थिति में सुधार होगा। कहा कि विभाग अब 20 किलो वाले सायलेज (पशुओं के पौष्टिक भोजन के पैकेट) दुग्ध उत्पादक सहकारी समितियों से जुड़े लोगों के घर पहुंचाएगा। उन्होंने सायलेज पर 50 फीसदी की सबसीडी देने की भी घोषणा की। क्षेत्रीय विधायक चैंपियन ने कहा कि उनके विधायक बनने से पहले खाद में बाढ़ के चलते किसानों की हालत खराब थी। पहली बार विधायक बनते ही उन्होंने खुद राज्य व केंद्र में पैरवी कर गंगा तथा सोलानी पर तटबंध बनवाकर समस्या का निराकरण कराया। उन्होंने दावा किया कि पिछले बीस साल में खादर पांच दशक आगे पहुंच गया है। इस अवसर पर लक्सर नपा अध्यक्ष अंबरीश गर्ग, यूसीडीएफ निदेशक जेएस नगन्याल, एडी पियूष आर्य, महाप्रबंधक जीएस मौर्य, उप महाप्रबंधक आरएम तिवारी, एसडीएम शैलेंद्र सिंह नेगी, सीवीओ डॉ. योगेश भारद्वाज, डीपीओ बाल विकास देव सिंह, दुग्ध संघ चेयरमैन रणवीर सिंह, भीम सिंह, नवनीत शर्मा, विरेंद्र प्रधान, अर्जुन सिंह, सचिन चौधरी, सुंदर सिंह आदि।